Jharkhand School Chhatra Cycle Yojana 2023 : आवेदन पात्रता एवं उद्देश्य

0

हमारे देश में शिक्षा के क्षेत्र में वृद्धि करने और छात्रों का भविष्य उज्जवल करने के लिए सरकार द्वारा विभिन्न प्रकार की योजनाएं शुरू की जा रही है। इसी दिशा में झारखंड सरकार द्वारा विद्यार्थियों को साइकिल प्रदान करने के लिए Jharkhand School Chhatra Cycle Yojana 2023 शुरू किया गया है। इस योजना के माध्यम से झारखंड के अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, पिछड़े वर्ग और अल्पसंख्यक समुदाय के विद्यार्थियों को मुफ्त साइकिल प्रदान की जाएगी। इस योजना का लाभ राज्य के 9 लाख विद्यार्थियों को दिया जाएगा।

अगर आप भी झारखंड सरकार द्वारा प्रदान की जा रही है इस योजना का लाभ प्राप्त करना चाहते हैं तो आपको यह लेख ध्यान पूर्वक अंत तक पढ़ना होगा। क्योंकि आज हम आपको इस लेख के माध्यम से Jharkhand School Chhatra Cycle Yojana से संबंधित सारी जानकारी प्राप्त कराने वाले हैं।

जैसे कि आप सभी जानते हैं कि राज्य सरकार द्वारा राज्य के उन्नती के लिए कई सारी योजनाओं का शुरूआत किया जाता है, जिसमें महिलाओं को, छात्राओं को, विकलांग, दिव्यांग एवं वृद्ध नागरिकों को तथा निराश्रित तथा बेरोजगार युवा को लाभ उपलब्ध होता है। इस तरह झारखंड सरकार द्वारा स्कूल के छात्रों के लिए साइकिल योजना की शुरुआत की गई है, जिसके अंतर्गत छात्रों को ₹4500 उपलब्ध कराई जाएगी। इस योजना के तहत झारखंड सरकार द्वारा 9 लाख छात्रों को सीधे बैंक खाते में राशि ट्रांसफर की जाएगी। जिससे छात्र अपने लिए साइकिल खरीद कर आत्मनिर्भर बन सशक्त रूप से पढ़ाई करने में रूचि रखेंगे और उन्हें आने-जाने में किसी भी प्रकार से समस्या नहीं होगी।

योजना का नामझारखंड स्कूल छात्र साइकिल योजना
राज्यझारखंड
उद्देश्यस्कूल के छात्रों को साइकिल उपलब्ध कराना
लाभार्थीराज्य के सभी शासकीय एवं सरकारी स्कूल के छात्र
राशि4500
विभागआदिवासी कल्याण विभाग
साल2023
आवेदन प्रक्रियाऑफलाइन माध्यम
वेबसाइटhttps://jharkhand.mygov.in

झारखंड स्कूल छात्र साइकिल योजना को शुरू करने का मुख्य उद्देश्य सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले बच्चों को साइकिल के लिए 4500 रुपए की राशि प्रदान करना है ताकि वह बच्चे साइकिल खरीद कर बिना किसी समस्या के स्कूल जा सके। राज्य के सरकारी स्कूलों से आठवीं पास करने के बाद आगे की पढ़ाई के लिए बच्चों को 10 से 12 किलोमीटर दूर हाई स्कूल जाना पड़ता है। जिसके कारण कभी-कभी बच्चे बीच में ही अपनी पढ़ाई छोड़ देते हैं लेकिन अब साइकिल का लाभ मिलने से बच्चों को शिक्षा के लिए प्रेरित किया जा सकेगा। जिससे राज्य में शिक्षा के क्षेत्र में वृद्धि हो सकेगी।

Jharkhand School Chhatra Cycle Yojana के तहत साइकिल के लिए दी जाने वाली राशि दिसंबर तक छात्र छात्राओं के बैंक अकाउंट में भेजी जाएगी। जानकारी के मुताबिक शैक्षिक वर्ष 2022-23 के साइकिल के पैसे अभी तक छात्रों को नहीं मिले लेकिन शिक्षा विभाग के अनुसार साइकिल की राशि दिसंबर में बच्चों को दी जाएगी। इसी के साथ 2023-24 और 2024-25 के लिए साइकिल खरीद का टेंडर भी जारी किया जाएगा।

  • झारखंड स्कूल छात्र साइकिल योजना का लाभ उठाने के लिए छात्र आवेदक को झारखंड के मूल निवासी होना अनिवार्य होगा।
  • सिर्फ आठवीं कक्षा में पढ़ने वाले छात्र – छात्राओं को ही इस योजना का लाभ मिलेगा।
  • राज्य में पढ़ रहे छात्र – छात्राओं को ही इस योजना का लाभ मिलेगा
  • अनु सूचित जाति, अनु सूचित जनजाति, पिछड़े वर्ग वालों और अल्पसंख्यक समुदाय के विद्यार्थी ही इस योजना के लिए पात्रता होगी।
  • आवेदक छात्र का बैंक खाता आधार कार्ड से लिंक होनी चाहिए तथा स्वयं के ही बैंक खाता होना चाहिए।
  • आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • जाति प्रमाण पत्र
  • पास किये गए पिछली कक्षा की मार्कशीट
  • बैंक खाता पासबुक
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साईज फोटो

इस योजना का लाभ उठाने के लिए किसी भी प्रकार के आवेदन की आवश्यकता नहीं है क्योंकि इस योजना के लिए स्कूल द्वारा ही छात्रों की जानकारी जिला उपयुक्त को भेज दी जाएगी। जिसमें छात्रों के नाम, पता के साथ उनके बैंक के खाता की भी जानकारी दी जाएगी। इसके बाद इस योजना के तहत छात्र – छात्राओं के खाते में साइकिल की राशि भेज दी जाएगी।

Jharkhand School Chhatra Cycle Yojana के तहत छात्र-छात्राओं को साइकिल के लिए कितने रुपए की राशि दी जाएगी?

Jharkhand School Chhatra Cycle Yojana के तहत छात्र – छात्राओं को साइकिल के लिए 4500 रुपए की राशि दी जाएगी।

Jharkhand School Chhatra Cycle Yojana का लाभ किन छात्रों को मिलेगा?

Jharkhand School Chhatra Cycle Yojana का लाभ आठवीं कक्षा में पढ़ने वाले छात्रों को मिलेगा।

Jharkhand School Chhatra Cycle Yojana का लाभ कितने छात्रों को मिलेगा?

Jharkhand School Chhatra Cycle Yojana के तहत लगभग 9 लाख छात्र – छात्राओं को लाभ मिलेगा।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
एक टिप्पणी भेजें (0)
To Top