LIC Varishtha Pension Bima Yojana में आवेदन कैसे करें? जाने योजना से जुड़ी जानकारी

0

Varishtha Pension Bima Yojana को भारतीय जीवन बीमा निगम द्वारा संचालित किया गया है। LIC Varishtha Pension Bima Yojana एक बीमा पॉलिसी सह पेंशन योजना है। यह योजना एक प्रकार की इंश्योरेंस पॉलिसी है। आज हम आपको इस लेख के माध्यम से LIC Varishtha Pension Bima Yojana से जुड़ी सारी जानकारी प्रदान करेंगे। यदि आप इस योजना का लाभ उठाना चाहते हैं और इस योजना से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो इस लेख को अंत तक पढ़े।

LIC Varishtha Pension Bima Yojana एक बीमा पॉलिसी सह पेंशन योजना है जिसे भारतीय जीवन बीमा निगम द्वारा संचालित किया गया है। इस योजना के अंतर्गत वरिष्ठ नागरिकों को सुरक्षा प्रदान की जाएगी। LIC Varishtha Pension Bima Yojana एक तरह की इंश्योरेंस पॉलिसी है जिसके अंतर्गत आवेदक एक बार प्रीमियम का भुगतान कर जिंदगी भर पेंशन का लाभ उठा सकते हैं।

LIC Varishtha Pension Bima Yojana के तहत लाभार्थी प्रीमियम का भुगतान मासिक, त्रैमासिक, अर्धवार्षिक या फिर वार्षिक कर सकते हैं। भारतीय जीवन बीमा निगम ने इस योजना के लिए 9.3% का रिटर्न दर निर्धारित किया है।

योजना का नामLIC Varishtha Pension Bima Yojana
लाभार्थीभारत के वरिष्ठ नागरिक
साल 2024
उद्देश्यपेंशन प्रदान करना
आधिकारिक वेबसाइटयहाँ क्लिक करें

LIC Varishtha Pension Bima Yojana का मुख्य उद्देश्य देश के वरिष्ठ नागरिकों को पेंशन प्रदान करना है। कोई भी भारतीय नागरिक इस योजना में भाग ले सकता है, अर्थात इस योजना में निवेश कर प्रति माह पेंशन प्राप्त कर सकता है। इस योजना के अंतर्गत वरिष्ठ नागरिकों को सुरक्षा प्रदान की जाएगी। इस योजना के परिणामस्वरूप वरिष्ठ नागरिकों की आर्थिक स्थिति में सुधार आएगा अर्थात वह आत्मनिर्भर बनेंगे।

पेंशन आवृत्तिन्यूनतम खरीद मूल्यअधिकतम खरीद मूल्य
प्रतिमाह रु. 63,960रु. 6,39,610
त्रैमासिकरु. 65,430रु. 6,54,275
अर्धवार्षिकरु. 66,170रु. 6,61,690
वार्षिक रु. 66,665रु. 6,66,665
पीरियड अमाउंट
न्यूनतम पेंशनमासिक₹ 500
 त्रैमासिक₹ 1500
 अर्धवार्षिक₹ 3000
 वार्षिक₹ 6000
अधिकतम पेंशनमासिक₹ 5000
 त्रैमासिक₹ 15000
 अर्धवार्षिक₹ 30000
 वार्षिक₹ 60000
  1. पारिवारिक लाभ : इस योजना के तहत, पॉलिसी की राशि जीवनसाथी या आश्रित परिवार के सदस्य द्वारा प्राप्त की जा सकती है।
  2. खरीद मूल्य : इस योजना को एकमुश्त खरीद मूल्य पर भुगतान करके खरीदा सकते है। पेंशनर के माध्यम से खरीद मूल्य तथा पेंशन की राशि का चयन अपनी आर्थिक स्थिति के अनुसार किया जा सकता है।
  3. आयु सीमा : इस योजना के तहत न्यूनतम आयु सीमा 60 वर्ष है और अधिकतम आयु सीमा नहीं है।
  4. सरेंडर वैल्यू : पेंशनर पॉलिसी अवधि के 15 वर्ष पूरा होने पर स्कीम से हट सकता है। lic varishtha bima plan इस मामले में खरीद मूल्य का 100% पेंशनभोगी को वापस कर दिया जाएगा। लेकिन अगर पेंशनभोगी योजना से 15 साल से पहले वापस लेता है, तो खरीद मूल्य का केवल 98% वापस कर दिया जाएगा।
  5. पेंशन भुगतान : वरिष्ठ पेंशन बीमा योजना के तहत पेंशन का भुगतान चयनित पेंशन भुगतान के मोड पर आधार से किया जाएगा। पहली पेंशन का भुगतान पॉलिसी खरीदने के 1 महीने, 3 महीने, 6 महीने या 1 साल के बाद किया जाएगा।
  6. फ्री लुक पीरियड : इस स्कीम के तहत 15 दिन का फ्री लुक पीरियड होता है। यदि पॉलिसी धारक इस नीति के दिशानिर्देशों से संतुष्ट नहीं है, तो वह 15 दिनों के भीतर इस पॉलिसी से बाहर निकल सकता है। इस मामले में, स्टांप शुल्क में कटौती के बाद खरीद मूल्य की पूरी राशि वापस कर दी जाएगी।
  7. लोन : पॉलिसी अवधि के 3 साल पूरे होने के बाद, खरीद मूल्य का अधिकतम 75% ऋण प्राप्त किया जा सकता है। इस ऋण पर ब्याज देना होगा।
  8. मृत्यु की स्थिति में : यदि पेंशनभोगी की मृत्यु हो जाती है, तो उस योजना के तहत प्रदान की गई खरीद मूल्य वापस कर दी जाएगी।
  • यदि फ्री लुक पीरियड के दौरान पेंशनर योजना के दिशा-निर्देशों से संतुष्ट नहीं है इस स्थिति में वह पॉलिसी वापस कर सकता है। भारतीय जीवन बीमा निगम द्वारा पॉलिसी वापस करने पर खरीद मूल्य की राशि वापस कर दी जाएगी।
  • पॉलिसी धारकों पॉलिसी खरीदते समय नॉमिनी से संबंधित जानकारी प्रदान करनी अनिवार्य है।
  • यदि पॉलिसी धारक द्वारा कोई गलत जानकारी प्रदान की गई है तो इस स्थिति में पॉलिसी जप्त भी की जा सकती है।
  • पॉलिसी के नियम व शर्तों को समय-समय पर बदला जा सकता है।
  • भारतीय जीवन बीमा निगम द्वारा दावे का भुगतान उसी कार्यालय द्वारा किया जाएगा जहां से पॉलिसी की सेवा दी जा रही है। लेकिन निगम किसी भी समय कोई वैकल्पिक स्थान निर्धारित भी कर सकता है।
  • दवा जमा करते समय लाभार्थी को क्लेम फॉर्म जमा करना अनिवार्य है।
  • क्लेम फॉर्म के साथ ओरिजिनल पॉलिसी डॉक्युमेंट, एनईएफटी आदेश, स्वामित्व का प्रमाण पत्र, मृत्यु का प्रमाण आदि भी जमा करना होगा।
  • पेंशन प्राप्त करने के लिए पेंशन करता को निगम द्वारा निर्धारित समय अवधि में तय किए गए परफॉर्मा में विधमानता का प्रमाण पत्र जमा करना होगा।
  • यदि पॉलिसी धारक पॉलिसी को सरेंडर करता है तो इस स्थिति में पॉलिसी धारक को अपना या अपने जीवन साथी का डिस्चार्ज फॉर्म के साथ मूल पॉलिसी दस्तावेज भी जमा करने होंगे।
  • पेंशन प्राप्तकर्ता की घोषित उम्र के आधार पर पॉलिसी जारी की जाएगी।
  • पॉलिसी आरंभ होने की तिथि के 3 वर्षों के पश्चात पॉलिसी पर ऋण लिया जा सकता है।
  • ऋण की राशि खरीद मूल्य का 75% है।
  • पॉलिसी को पॉलिसी खरीदने की 15 वर्ष की अवधि पूरी होने के पश्चात सरेंडर किया जा सकता है।
  • यदि पॉलिसी धारक को 15 वर्ष से पहले पॉलिसी सरेंडर करने की आवश्यकता पड़ती है तो इस स्थिति में पॉलिसी धारक को खरीद मूल्य की 98% राशि प्रदान की जाएगी।
  • आवेदक भारत का स्थाई निवासी होना चाहिए ।
  • आवेदक की आयु 60 वर्ष से अधिक होनी चाहिए
  • आधार कार्ड
  • राशन कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • आयु प्रमाण पत्र
  • पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ
  • मोबाइल नंबर
  • सबसे पहले आवेदक को नजदीकी LIC ऑफिस जाना होगा
  • ऑफिस जाने के बाद वहां से आवेदन फॉर्म मांगना होगा
  • आवेदन पत्र प्राप्त करने के बाद, उसमे पूछी गई सभी जानकारी को ध्यानपूर्वक दर्ज करना होगा।
  • जानकारी दर्ज करने के बाद अपने सभी महत्वपूर्ण दस्तावेज संलग्न करने होंगे।
  • दस्तावेज़ को संलग्न करने के बाद, इस फॉर्म को उसी LIC ऑफिस में जमा करना होगा
  • आवेदन पत्र के साथ साथ आवेदक प्रीमियम राशि भी जमा करनी होगी।
  • इस प्रकार आवेदक इस योजना के तहत आवेदन कर सकते हैं।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
एक टिप्पणी भेजें (0)
To Top